यूपी सीएम योगी से मिले CM धामी, परिसंपत्तियों के मामले पर हुई चर्चा

cm dhami meets up cm yogi adityanath

रैबार डेस्क: उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने लखनऊ में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से शिष्टाचार भेंट की। इस दौरान दोनों नेताओं में उत्तराखण्ड से जुड़े विभिन्न विषयों तथा परिसंपत्तियों के बंटवारे पर चर्चा हुई। (cm dhami meets UP CM Yogi Adityanath discuss on asset dispute) चुनावी साल से पहले परिसंपत्तिय़ों के मामले पर धामी सरकार जनता के बीच सकारात्मक नतीजे के साथ जाना चाहती है। इसलिए धामी का ये लखनऊ दौरा अहम माना जा रहा है। इस दौरान कैबिनेट मंत्री श्री यतीश्वरानंद भी उपस्थित थे।

चुनावी साल में मुख्यमंत्री धामी उम्मीद कर रहे हैं कि उत्तरप्रदेश सरकार राज्य के लंबित मसलों के हल निकालेगी। गुरुवार को सुबह मुख्यमंत्री आवास में धामी ने सीएम योगी आदित्यनाथ स मुलाकात की। इसके बाद कार्यालय में उत्तर प्रदेश एवं उत्तराखंड राज्य के मध्य अस्तियों एवं दायित्वों के लंबित प्रकरणों के संबंध में सीएम धामी ने योगी से चर्चा की। इस दौरान योगी शासन के उच्चाधिकारी भी मौजूद रहे।

इन लंबित मसलों पर हुआ मंथन
– हरिद्वार, ऊधमसिंहनगर और चंपावत में 379 हेक्टेयर भूमि उत्तराखंड को हस्तांतरित होनी है
– हरिद्वार, ऊधमसिंह नगर व चंपावत में 351 आवासीय भवन यूपी से मिलने हैं
– कुंभ मेला की 687.575 हैक्टेयर भूमि को सिंचाई विभाग को हस्तांतरित होनी है।
– उत्तराखंड पर्यटन विभाग को पुरानी ऊपरी गंग नहर में वाटर स्पोर्ट्स की सशर्त मंजूरी दी जानी है
– यूएसनगर में धौरा, बैगुल, नानकसागर जलाशय में पर्यटन व जलक्रीड़ा से पहले परीक्षण कराया जाना है
– केंद्र सरकार के आदेश के अनुसार, उत्तराखंड वन विकास निगम को यूपी वन निगम में संचित व आधिक्य धनरासि 425.11 करोड़ में से 229.55 करोड़ की धनराशि उत्तराखंड मिलनी हैष वाहन भंडार की 2061 की धनराशि का भी भुगतान होना है।
– यूपीसीएल को बिजली बिलों का 60 करोड़ का बकाया देना है
– उत्तराखंड गठन के बाद 50 करोड़ मोटर यान कर उत्तराखंड परिवहन निगम को दिया जाना था। 36 करोड़ बकाया है।
– अजमेरी गेट स्थित अतिथि गृह नई दिल्ली, यूपी परिवहन के लखनऊ स्थित मुख्यालय, कार सेक्शन और कानपुर स्थित केंद्रीय कार्यशाला व ट्रेनिंग सेंटर के विभाजन का निर्णय होना है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed