2024-05-29

यहां रातभर कनस्तर बजाकर जागने को मजबूर हैं ग्रामीण, जंगली जानवरों से खेती बर्बाद

Villagers beating canisters late night to keep wild animals away

रैबार डेस्क: उत्तराखंड के पहाड़ी क्षेत्रों में खेती करना सबसे चुनौती भरा काम है। मौसम कुछ ठीक हो भी जाय तो जंगली जानवर खेती को तबाह कर रहे हैं। दिन में बंदरों और रात में।जंगली सुअरों के आतंक से लोग तंग आ गए हैं। बागेश्वर के गरुड़ विकास खंड के कई गांवों में उन दिनों लोग देर रात तक कनस्तर और बर्तन बजाकर खेतों की रखवाली कर रहे हैं।


गरुड़ विकासखंड के ग्राम जाख, सलानी, वज्यूला, जखेड़ा आदि गांवों के ग्रामीण जंगली जानवरों के आतंक से परेशान हैं। अपनी खेती बचाने के लिए ग्रामीण रात भर कनस्तर व बर्तन बजाकर खेतों की रखवाली कर रहे हैं। ग्रामीणों ने बताया कि जंगली जानवरों के आतंक से निजात दिलाने के लिए कई बार वन विभाग को सूचित करने के बाद भी कोई ध्यान नहीं दिया जा रहा है। ग्रामीणों ने चेतावनी दी है कि यदि उन्हें जंगली जानवरों के आतंक से निजात नहीं दिलाई गई तो उग्र आंदोलन किया जायेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed