राज्य स्थापना दिवस: गैरसैंण के लिए CM का मेगाप्लान, 10 साल में ₹25 हजार करोड़ से होगा ग्रीष्मकालीन राजधानी का विकास

25000 MEGA PLAN FOR GAIRSAIN
गैरसैंण में राज्य स्थापना दिवस की धूम। CM ने ली परेड की सलामी। गैरसैंण के विकास पर खर्च होंगे 25000 करोड़। अगले 10 साल में ग्रीष्म राजधानी का होगा कायाकल्प।

गैरसैंण: उत्तराखंडवासियों के लिए 21वां स्थापना दिवस (Uttarakhand foundation day) कई मायनों में खास रहा। सबसे बडी बात ये कि राज्य की ग्रीष्मकालीन राजधानी (summer capital Gairsain) में स्थापना दिवस का जश्न गर्मजोशी के साथ मनाया गया। भराड़ीसैंण में मुख्य कार्यक्रम आयोजित हुआ जिसमें सीएम त्रिवेंद्र (Trivendra Singh Rawat) ने परेड की सलाामी ली यह पहली बार है जब किसी मुख्यमंत्री ने गैरसैंण में पुलिस परेड की सलामी ली। इस दौरान सीएम ने गैरसैंण के विकास के लिए 25 हजार करोड़ रुपए के पैकेज (Gairsain Mega Package) की घोषणा की है।

भराड़ीसैंण विधानसभा भवन के परिसर में आयोजित कार्यक्रम में पुलिस औरक आीटीबीपी जवानं की भव्य परेड का आयोजन हुआ जिसकी सलामी सीएम त्रिवेंद्र ने ली। इसके बाद सीएम ने जनता को संबोधित करते हुए गैंरसैंण को बड़ा तोहफा दिया। सीएम ने कहा कि गैरसैंण ग्रीष्म राजधानी परिक्षेत्र के सुनियोजित विकास के लिए अगले 10 साल में 25 हजार करोड़ रुपए खर्च किए जाएंगे। अगले 10 वर्षों में ग्रीष्म राजधानी क्षेत्र में योजनाबद्ध तरीके से विकास कार्य किए जाएंगे।


गैरसैंण के लिए इस मेगा बजट से अगले 10 साल में इस क्षेत्र का नक्शा बदल जाएगा।। यह रकम हेल्थ, एजुकेशन, कनेक्टिविटी, बडज़े संस्थानों की स्थापना, मल्टी स्पेशियलिटी अस्पताल, सड़क आदि के निर्माण पर खर्च होगी। सिंगल लेन सड़को को डबल लेन किया जाएगा, गैरसैंण समेत पहाड़ के इस महत्वपूर्ण इलाके की पेयजल और बिजली की समस्या भी खत्म हो जाएगी। गैरसैंण में तमाम विभागों के मुख्यालय बनेंगे तो उससे गैरसैंण का विकास चरम पर पहुँच जाएगा। गैरसैंण परिक्षेत्र मैं बिजली की निर्बाध आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिए बड़ी ट्रांसमिशन लाइन उच्च क्षमता के बिजली सबस्टेशन और ट्रांसफार्मर लगेंगे।


ये घोषणाएं भी की
*इसके अतिरिक्त सीएम त्रिवेंद्र ने कहा कि सरकार जल्द ही जिला विकास प्रधिकरण के नियमों में शिथिलता लाएगी।
*गैरसैंण में सेंटर ऑफ एक्सीलेंस की स्थापना जल्द ही की जाएगी।

*गैरसैंण में प्रस्तावित झील के लिए 100 करोड़ रुपये का बजट जल्द स्वीकृत होगा।
*सीएम ने कहा कि महिला स्वयं सहायता समूहों के 5 लाख रुपए तक के उत्पाद सरकार सीधे खरीदेगी, जिससे उनके सामने उत्पादों को उचित बाजार मिल सकेगा।
*सर्वाधिक पलायन वाले 500 गांवों को चिन्हित कर वहां के स्वयं सहायता समूहों को सरकार मामूली ब्याज दर पर मुहैया करायेगी।
*गांवों में 1 रुपए में पानी केकन्केशन देने की तर्ज पर अब शहरी इलाकों में भी गरीब परिवारों को 100 रुपये में जल का कनेक्शन मिलेगा।
*भष्ट्राचार के मामलों की शिकायत के लिए जल्द ही एक हेल्पलाइन नंबर जारी होगा।
*महिलाओं के लिए सौभाग्यवती योजना शुरू की जाएगी।
*जल्द ही राज्य की निर्माण नीति बनाई जाएगी।
*राज्य कर्मचारियों को दिवाली बोनस दिया जाएगा।
*देहरादून में अंतराष्ट्रीय स्तर के साइंस कॉलेज का निर्माण किया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed