स्थापना दिवस समारोह : जब चमोली DM ने गढ़वाली कविता से किया अथितियों का स्वागत, जमकर बजी तालियां

dm swati bhadauria

गैरसैंण: 21 वें राज्य स्थापना दिवस (Uttarakhand Statehood Day) की प्रदेशभर में धूम मची है। इस बार पहली बार गैरसैंण में स्थापना दिवस पर परेड आयोजित की गई जिसकी सलामी सीएम त्रिवेंद्र (Trivendra Singh Rawat) ने ली । ये पहला मौका है जब किसी मुख्यमंत्री ने गैरसैंण में परेड की सलामी ली है। इस कार्यक्रम में चमोली की डीएम स्वाति भदौरिया (DM Chamoli) का गढ़वाली में दिया सूक्ष्म उद्बोधन चर्चा का विषय बना हुआ है।

https://www.facebook.com/raibaruttarakhand/posts/213290233479136


दरअसल स्थापना दिवस कार्यक्रम में जब अथितियों के स्वागत के लिए डीएम स्वाति भदौरिया को बुलाया गया तो उन्होंने गढ़वाली पंक्तियां बोलकर सबका दिल जीत लिया। डीएम भदौरिया ने सभी का अभिनंदन करते हुए कहा कि वो इन पंक्तियों के माध्यम से प्रदेश की जनता के भाव प्रकट कर रही हैं। डीएम भदोरिया ने कहा ,,.,..
सुण दीदी, सुण भुली, सुणा सबि भै बंद,
आज हम सबि जन गैरसैंण मा जौला।
राज्य कु सुभ दिन च आज, सबुं तैं बतौला,
उत्तराखंड का ये त्योहार बड़ा धूम से मनौला।
डीएम स्वाति के मुंह से गढ़वाली सुनकर भराड़ीसैंण का परिसर तालियों की गड़गड़ाहट से गूंज उठा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed