UKSSSC पेपर लीक: उपनलकर्मी, पुलिसकर्मी के बाद अब CJM कोर्ट का कनिष्ठ सहायक अरेस्ट, भर्ती घोटाले में अब तक 12 की हो गिरफ्तारी

cjm court employee arrested in uksssc paper leak case

रैबार डेस्क : उत्तराखंड अधीनस्थ सेवा चयन आयोग की वीपीडीओ परीक्षा के पेपर लीक के मामले में आरोपियों पर एसटीएफ का शिकंजा कसता जा रहा है। आयोग के कर्मचारी, पुलिसकर्मी के बाद अब एसटीएफ ने इस मामले में सीजेएम कोर्ट के कनिष्ठ सहायक को गिरफ्तार किया है। (junior assistant of cjm court arrested in connection with uksssc vpdo paper leak case) वीपीडीओ भर्ती घोटाले में अब तक 12 लोगों की गिरफ्तारियां हो चुकी हैं।

उतराखंड पुलिस ने सोमवार को सीजेएम कोर्ट नैनीताल के कनिष्ठ सहायक महेंद्र चौहान को काशीपुर से गिरफ्तार किया है। पेपर लीक मामले में एसटीएफ एक सप्ताह के भीतर 12 लोगों को गिरफ्तार कर चुकी है। आरोप है कि महेन्द्र सिंह गिरफ्तार बर्खास्त पीआरडी जवान मनोज जोशी का परिचित है। ऐसे में महेन्द्र ने, मनोज जोशी से पेपर लेकर एसपी काशीपुर के गनर अंबरीश कुमार को उपलब्ध कराया था। कड़ियों को जोड़ते हुए एसटीएफ और भी गिरफ्तारियां कर सकती है। एसटीएफ के एसएसपी अजय सिंह ने बताया कि पिछले दिनों आरोपियों से पूछताछ और साक्ष्यों के आधार पर कुमाऊं क्षेत्र में जांच हो रही है। टीम ने वहां डेरा डाला हुआ है।

एसटीएफ के मुताबिक अभी इस मामले में कई और गिरफ्तारियां हो सकती हैं। शनिवार को ऊधमसिंह नगर और आसपास के क्षेत्रों से करीब एक दर्जन लोगों को पूछताछ के लिए लाया गया है। इनकी भूमिका की भी जांच की जा रही है। बता दें कि आयोग की ओर से 4-5 दिसम्बर 2021 को स्नातक स्तर के विभिन्न 13 विभागों में भर्ती परीक्षा करवाई गई थी, जिसका पेपर लीक हो गया था। सीएम के आदेश के बाद इस मामले में 22 जुलाई के रायपुर थाने में मुकदमा दर्ज किया गया था। 24 जुलाई को 6 आरोपियों को अरेस्ट करके एसटीएफ ने इस मामले का भंडाफोड़ किया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed