अल्मोड़ा: छेड़खानी के शक में भीड़ ने युवक को पीट पीटकर मार डाला,मुख्य आरोपी समेत 5 गिरफ्तार

रैबार डेस्क: अल्मोड़ा के दन्या क्षेत्र में मॉब लिंचिंग का मामला सामने आया है। एक युवक को युवती से छेड़खानी के शक में भीड़ ने इतनी बेरहमी से पीटा कि उसने दम तोड़ दिया (youth beaten to death by mob) । मृतक के परिजनों की शिकायत के आधार पर पुलिस ने मामले में 5 लोगों को गिरफ्तार किया है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार अल्मोड़ा के दन्या क्षेत्र में आरासल्फड़ गांव के लोगों ने गुरुवार को रुबाल गांव निवासी युवक भुवन उर्फ भानु जोशी को अपने गांव की युवती के साथ पकड़ लिया। ग्रामीणों का आरोप है कि युवती ने युवक पर छेड़छाड़ का आरोप लगाया। जिस पर ग्रामीणों ने बेरहमी से भानु की पिटाई कर दी। जब तक पुलिस मामले में दखल देती युवक की हालत खराब हो गई। अस्पताल ले जाते ही उसने दम तोड़ दिया।युवती के पिता की तहरीर पर युवकों के खिलाफ पॉक्सो एक्ट में मुकदमा दर्ज किया गया। दोनों युवकों का मेडिकल भी करवाया गया। लेकिन मारपीट में घायल भुवन की तबीयत बिगड़ गई।और अस्पताल में उसने दम तोड़ दिया।

पहले यह मामला छेड़छाड़ का लगा था। लेकिन इस मामले में एक वीडियो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है। इस वीडियो ने मामले में ट्विस्ट लांया दिया है। वीडियो में युवक ग्रामीणों से जान की भीख मांगता दिख रहा है। युवक कह रहा है कि उनके गांव की लड़की ने ही उसे फोन करके मिलने बुलाया था। उसने छेड़खानी जैसी कोई हरकत नहीं की है। मृतक के भाई ने आरोप लगाया है कि 19 वर्षीय मृतक भानु आरासल्फड़ गॉव में अपनी प्रेमिका से मिलने गया हुआ था, और जब ग्रामीणों की नजर इन दोनों पर पड़ी। तो युवक की प्रेमिका मुकर गई और लड़के पर छेड़खानी का आरोप लगाने लगी, जिसके बाद ग्रामीणों द्वारा तैश में आकर युवक की बेरहमी से पिटाई कर दी और बाद में अस्पताल में युवक ने दम तोड़ दिया। मृतक जयपुर के एक होटल में नौकरी करता था।

उधर युवक की मौत के बाद उसके परिजनों ने पुलिस में आरासल्फड़ के ग्रामीणों के खिलाफ तहरीर दी है।पुलिस ने आरासल्फड़ के गाँव 10 लोगो के खिलाफ अभियोग पंजीकृत कर 30 अप्रैल को हरीश पाण्डे उम्र 33 वर्ष पुत्र देवी दत्त पाण्डे, 51 वर्षीय हरीश चन्द्र पाण्डे तथा 35 वर्षीय नर सिंह पुत्र अमर सिंह को गिरफ्तार किया। घटना के मुख्य आरोपी शिवदत्त पांडे और ग्राम प्रधान को भी पुलिस ने आज गिरफ्तार किया। इस मामले में अल्मोड़ा पुलिस ने लोगों से अपील की है कि मामले की निष्पक्ष जांच चल रही है, ऐसे में नाबालिग लड़की की फोटो और असभ्य पोस्ट सोशल मीडिया पर शेयर न करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed