सतपुली: पैराग्लाइडिंग के दौरान हादसा,HASA के पायलट ने त्वरित रेस्क्यू के लिए CM का आभार जताया

Para Glider accident in Satpuli

Para Glider accident in Satpuli

हासा के पायलट शुभांग रतूड़ी घायल। बिलखेत में चल रहा हवाई खेलों का ट्रायल।गलत अनुमान से हुआ हादसा। विशेषज्ञ पैरा ग्लाइडर हैं शुभांग।

पौड़ी(सतपुली): रविवार को एयरो स्पोर्ट्स की साइट (Satpuli) सतपुली के पास बिलखेत में पैराग्लाइडिंग के दौरान एक हादसा (accident) हो गया। जिसमें एक पैराग्लाइडर गंभीर रूप से घायल (Paraglider injured) हो गया है। घायल पैराग्लाइडर को उपचार के लिए देहरादून लाया गया है, फिलहाल उसकी स्थिति सामान्य है।

जिले में पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत और पौड़ी जिलाधिकारी धीराज सिंह गर्ब्याल की पहल पर नयार नदी में राफ्टिंग, क्याकिंग और पैराग्लाइडिंग प्रशिक्षण देकर इस क्षेत्र को रोजगार से जोड़ा जा रहा है। इसी क्रम में बिलखेत में एयर स्ट्रिप तैयार की गई है,जहां पैरा मोटरिंग और पैरा ग्लाइडिंग की ट्रेनिंग दी जा रही है। रविवार दोपहर को सतपुली के पास बिलखेत में एक टीम का पैराग्लाइडिंग प्रशिक्षण चल रहा था। पायलट इमरजेंसी प्रोसीजर डेमोस्ट्रेशन कर रहा था। तभी लैंडिंग से ठीक पहले 15 फ़ीट ऊपर तेज हवा के कारण पायलट का संतुलन बिगड़ा और जमीन पर गिर पड़ा। इस घटना में पैराग्लाइडर शुभांग रतूड़ी घायल हो गये। घायल पैराग्लाइडर को उपचार के लिए हंस फाउंडेशन के अस्पताल ले जाया गया। लेकिन एमआरआई की व्यवस्था न होने के कारण पैराग्लाइडर को हेलीकॉप्टर से देहरादून हायर सेंटर रेफर किया गया।

घायल पायलट जौलीग्रांट अस्पताल में भर्ती हैं।


शुभांग रतूड़ी हिमालयन एयरोस्पोर्ट्स एसोशिएशन के अध्यक्ष हैं और एक ट्रेंड पायलट हैं। लेकिन एक गलत अनुमान के चलते उनके साथ हादसा हुआ। सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत के निर्देश पर डीएम पौड़ी ने त्वरित हेलीकॉप्टर की व्यवस्था कराई और घायल पायलट को एयरलिफ्ट करके हिमलायन हॉस्पिटल जॉलीग्रांट में भर्ती कराया गया। पायलट की हालत में तेजी से सुधार हो रहा है। पैराग्लाइडर शुभांग रतूड़ी ने सीएम त्रिवेंद्र और जिलाधिकारी धीराज गर्ब्याल का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि वो जल्द ही फील्ड पर लौटेंगे, उनकी इंजुरी से नयार घाटी में चल रहा एडवेंचर खेलों का मिशन रुकना नहीं चाहिए।

उधर HASA के मनीष जोशी का कहना है कि ट्रेनिंग के दौरान इस तरह के हादसे होते रहते हैं। शुक्र है कि पायलट को गंभीर चोटें नहीं आई हैं। इस घटना से ट्रेनिंग पर कोई असर नहीं पड़ेगा और नयारघाटी में हवाई खेलों की ट्रेनिंग अनवरत जारी रहेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed